ओला पीडित किसानों से किसान संघर्ष समिति की अपील


मध्य प्रदेश सहित देश के कई इलाको में ओलावृष्टि हुई है जिससे किसानों की फसले बर्बाद हो गई है। अभी तक किसी भी राज्य सरकार ने किसानों को मुआवजा देने की घोषणा नहीं की है। वही शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसान सम्मेलन के नाम पर 5 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जा रही है। ऐसे में किसान संघर्ष समिति की अपील ने किसानों से अपील की है कि-

हम सर्वे की भ्रष्ट पटवारी व्यवस्था को अस्वीकार करते है। पटवारी और कृषि विभाग का सर्वे ग्राम सभा की अनुशंसा के बाद ही बीमा कंपनी और राजस्व विभाग को मुआबजा वितरण हेतु सौपा जाए।
  1. आप नस्ट हुई फसल का मोबाईल से फोटो निकाल कर सेव करें, कृषि मंत्री और मुख्य मंत्री को ट्वीट करें ।
  2. टोल फ्री 18001801551 पर तुरंत शिकायत दर्ज करें ।
  3. बैंक के मैनेजर को लिखित सूचना दें , एक प्राप्ति जरूर अपने पास संभाल कर रखें 
  4. इसी तरह तहसीलदार और कृषि विस्तार अधिकारी,बीमा कंपनी को भी लिखित शिकायत दें।
  5. टोल फ्री 18001030061पर बीमा कम्पनी को अवगत कराएं
  6. आपके इलाके में जो भी किसान संगठन सक्रिय है, उनके साथ मिलकर सामूहिक ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी को सौंपे ,कितनी फसल कितने रकबे में नष्ट हुई है उसका ब्यौरा दें । ज्ञापन की प्रति प्रेस को जारी करें ।
  7. हम लागत से डेढ़ गुना समर्थन मूल्य पर खरीद सुनिश्चित करने की मांग कर रहे हैं। यही मांग मुआबजे को लेकर भी होनी चाहिए

फसल नष्ट होने के कारण हमें किसानों की सम्पूर्ण कर्ज़ा मुक्ति के संघर्ष को तेज करना होगा।

अपने संगठन के नाम से यह मैसेज अपने अधिक से अधिक किसान साथियों को फारवर्ड करें।

लड़ेंगे, जीतेंगे।

डॉ सुनीलम
09425109770

Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।