गुजरात : सभी जिला मुख्यालयों पर अल्पसंख्यक अधिकार अभियान, 18 सितम्बर 2017

18 सितम्बर 2017, गुजरात के सभी 33 ज़िला कलेक्टर को माइनॉरिटी कोआर्डिनेशन कमिटी के बैनर तले अल्पसंख्यक समुदाय एक साथ ज्ञापन देंगे। गुजरात में अल्पसंख्यक समुदाय अधिक वंचित वर्ग है, इनको साम्प्रदायिक भेदभाव का भी सामना करना पड़ता है। पेश माइनॉरिटी कोआर्डिनेशन कमिटी का आमंत्रण; 

गुजरात में अल्पसंख्यकों के विकास, अल्पसंख्यकों की रक्षा  के लिए 8 सूत्रीय मांगों के साथ अल्पसंख्यक अधिकार अभियान शुरू किया गया| इसके प्रथम चरण में गुजरात से सभी जिलों से 1 लाख पोस्टकार्ड माननीय मुख्यमंत्री गुजरात को लिखे गए| मात्र पोस्टकार्ड लिखने से राज्य सरकार नें प्रधानमंत्री के नया 15 सूत्रीय कार्यक्रम की मॉनिटरिंग कमिटियों का गठन शुरू किया है| मुस्लिम बहुल जुहापुरा में EWS हाउसिंग स्कीम लांच की| वहीँ गुजरात सरकार जो पहले अल्पसंख्यक शब्द से परहेज़ करती थी बीते अगस्त महीने में राज्य में अल्पसंख्यक समुदाय के लिए केन्द्रीय मंत्री के द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर योजनाओ का बखान कर रही है| इस अभियान नें सरकार, विपक्ष की शब्दावली में अल्पसंख्यक, मुस्लिम शब्द शामिल करा दिया है| लेकिन अभी भी अल्पसंख्यकों के विकास, रक्षण के मूलभूत प्रश्न पर कोई नहीं बोल रहा है|

अभियान के दुसरे चरण में राज्य के सभी 33 ज़िला मुख्यालयों पर 1 दिन एक साथ ज्ञापन देना है| जिस ज्ञापन में अभियान की 8 मांगे जो की निम्न हैं-
  1. राज्य में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय की स्थापना की जाये|
  2. राज्य के बजट में अल्पसंख्यक समुदाय के विकास के लिए ठोस आबंटन किया जाये|
  3. राज्य में अल्पसंख्यक आयोग का गठन किया जाये व इसको संवेधानिक मजबूती का विधेयक विधानसभा में पास किया जाये|
  4. राज्य के अल्पसंख्यक बहुल विस्तारों में कक्षा 12 तक के सरकारी स्कूल खोले जाएँ|
  5. मदरसा डिग्री को गुजरात बोर्ड के समकक्ष मान्यता दी जाये|
  6. अल्पसंख्यक समुदाय के उत्थान के लिए विशेष आर्थिक पैकेज दिया जाये|
  7. सांप्रदायिक हिंसा से विस्थापित हुए लोगों के पुनर्स्थापन के लिए सरकार नीति बनाये|
  8. प्रधानमंत्री के नया 15 सूत्रीय कार्यक्रम का सम्पूर्ण रूप से अमलीकरण किया जाये|
21 अगस्त 2017 से 18 सितम्बर 2017 तक ‘अल्पसंख्यक अधिकार आन्दोलन’ महीना के रूप में मनाया जायेगा| इस महीने में राज्य भर में पब्लिक मीटिंग, सेमिनार, हस्ताक्षर अभियान चलाया जायगा| अंतिम दिन उक्त मांगों के लिए माननीय मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन 18 सितम्बर 2017, सोमवार को राज्य के सभी 33 कलेक्टर को एक साथ 11.30 बजे ज्ञापन देंगे|

अभियान के तीसरे चरण में राज्य भर से 1 लाख व्यक्तिगत रिप्रजेंटेशन हस्ताक्षर कराकर माननीय मुख्यमंत्री गुजरात को राज्य के प्रतिनिधिमंडल द्वारा सौंपा जायेगा|

इस अभियान में आप सब के समर्थन, सहयोग की ज़रुरत है| आप सभी से माइनॉरिटी कोआर्डिनेशन कमिटी की ओर से अपील करता हूँ के आप सब जिस भी तरह के मदद कर सकते हैं तो करें इससे अभियान को ताक़त मिलेगी| आप सभी से यथा संभव आर्थिक मदद की भी अपेक्षा है|

मुजाहिद नफ़ीस
9328416230

Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।