सीकर किसान आंदोलन : मुआवजे के साथ किसानों पर 1500 मुकदमे दर्ज

जिस समय में राजस्थान के हजारों किसान अपनी मांगों को लेकर पूरा राजस्थान ठप्प किए हुए थे ठीक उसी समय राजे सरकार इन किसानों पर मुकदमे ठोकने की तैयारी कर रही थी। एक तरफ उन्होंने आंदोलनकारियों पर दबाव बनाकर उन्हें समझौता करने पर मजबूर किया तो दूसरी तरफ उन्होंने 1500 किसानों पर रास्ता जाम करने के लिए मुकदमा दर्ज कर दिए। हम इस मामले पर आपके साथ हेमंत पारीक और कपिल एचरा की रिपोर्ट साझा कर रहे हैं;

राजस्थान के किसान।आंदोलन से बोखलाई राजे सरकार किसानों की जीत को पचा नही पा रही है और हर जिले में किसानों के खिलाफ मुकदमे कर ,किसानों को फिर से सड़क पर आंदोलन करने को मजबूर कर रही है ।अब तक पुरे राजस्थान में 1500 किसानों के खिलाफ झूंठे मुकदमे दायर कर चुकी है राणी साहिबा । मगर इस राणी को पता नही की ये क्रांतिकारी तेरे मुकदमो से नही डरने वाले । राणी तेरी तानासाही नही चलेगी ,नही चलेगी ।-

झुंझुनूं किसान आंदोलन में मुख्य मार्गों को अवरुद्ध करने वाले नेताओं पर हुए मुकदमे दर्ज।

पुलिस ने मामले को गंभीर लेते हुए अब रास्ता जाम करने वाले किसान नेताओं के खिलाफ मुकदमे दर्ज करने शुरू कर दिए है।आज जिले के छह पुलिस थानों में 43 नामजद और 225 किसानों के खिलाफ रास्ता जाम करने के मामले दर्ज किए गए है। इनमें अधिकतर वे जाम शामिल है। जो स्टेट हाइवे पर लगाए गए थे।आरोपियों में *पूर्व उप जिला प्रमुख विद्याधरसिंह गिल, नवलगढ़ के किसान नेता ओमप्रकाश ढाका, सुभाष बुगालिया, एसएफआई के पूर्व छात्र नेता कपिल ऐचरा, सीटू यूनियन के प्रदेश पदाधिकारी गजराज कटेवा* आदि के नाम भी शामिल है। कोतवाली पुलिस थाने में शहर कोतवाल हरिसिंह धायल ने *कपिल ऐचरा और उनके 15-20 साथियों के खिलाफ पीरूसिंह सर्किल के पास स्टेट हाइवे जाम करने* का मामला दर्ज कराया है। तो सदर पुलिस के एएसआई बाबूलाल ने नांद-हंसासर बस स्टैंड पर जाम लगाने वाले हंसासर निवासी देवीदत्त, रतिराम, नेकीराम, फूलाराम, महेंद्रकुमार, नवरत्न, शुभकरण, ओमप्रकाश, मुकेशकुमार मेघवाल, मुकेशकुमार बाबल, मनोजकुमार बड़बरिया, ऋषिपाल, सुमेर बुडानिया, हेतराम लोटासरा व 50-60 अन्य के खिलाफ झुंझुनूं-चूरू राजमार्ग अवरुद्ध करने का मामला दर्ज कराया है।नवलगढ़ सीआई बलराज मान ने ओमप्रकाश ढाका तथा सुमेर बुगालिया समेत 50 जनों के खिलाफ ज्योति होटल के पास स्टेट हाइवे पर जाम लगाने का मामला दर्ज कराया है। बगड़ एसएचओ विश्वजीतसिंह ने भी चिड़ावा-झुंझुनूं मार्ग पर नूनियां गोठड़ा के समीप जाम लगाने पर सीटू नेता गजराज कटेवा, पूर्व सरपंच तेजसिंह, रघुवीरसिंह नूनियां, धर्मपाल नूनियां, बीरबल नूनियां समेत 25-30 जनों पर रास्ता जाम करने का मामला दर्ज कराया है।गुढ़ागौडज़ी म एसएचओ जयराम ने पूर्व जिला उप प्रमुख विद्याधरसिंह गिल, पूर्व जिप सदस्य मूलचंद खरींटा, कुरड़ाराम महला, जेपी महला, कामरेड हरिराम, अनिल गिल, बंशी गिल, छोटूराम, महिपाल गिल सहित 30-35 अन्य के खिलाफ रास्ता जाम करने का मामला दर्ज कराया है। उदयपुरवाटी सीआई राजेश वर्मा ने इंद्रपुरा के पास जाम लगाने वाले अंकित, बाबूलाल, अवधेश, नरेश, कपिल, गिरधारी, नरेश, कैलाश, धूड़ाराम, विकास और अमित समेत 20-30 अन्य के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।
Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।