किसान महापड़ाव का 12 वां दिन : आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार किसान

राजस्थान में किसानों द्वारा कर्जा माफ़ी सहित 11 मांगों को लेकर किया जा रहा आंदोलन अब और ज्यादा तेज होता जा रहा है। राजस्थान के लाखों किसान अपनी मांगों को लेकर सड़क पर हैं और प्रशासन से सीधी मुठभेड़ लेने को तैयार हैं। वार्ता की उम्मीदें विफल होने के बाद अखिल भारतीय किसान महासभा ने पूरे राज्य में 12 सितम्बर को चक्काा जाम करने का आह्वान किया है। किसान पुरे प्रदेश में रोड़ जाम कर बैठ गया है । जयपुर-सीकर हाइवे कल से जाम  हैं। बाकी संपर्क मार्ग भी जाम कर दिए गए हैं।


पिछले 2 सितम्बर से सीकर में महापड़ाव पर बैठे किसानों ने सोमवार 11 सितम्बर को राजस्थान के शेखावटी क्षेत्र को पूर्ण रुप से जाम कर दिया।

वहीं आज प्रदेशभर में चक्काजाम की चेतावनी किसानों ने दी है। कर्ज माफी सहित 11 सूत्रीय मांगों को लेकर किए जा रहे आंदोलन के फिलहाल समाप्त होने की संभावना कमी ही है। क्योंकि किसानों और सरकार के बीच फिलहाल कोई वार्ता नहीं हुई है।

किसान जयपुर को जोड़ने वाले सड़क पर बैठ गए है। किसान आंदोलन के चलते चूरू में भी धारा 144 लगा दी गई। आज किसानों के प्रदेशभर में चक्काजाम की चेतावनी दी है।




Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।