14 दिनों से अनशन पर बैठी मेधा पाटकर झूठे आरोपों में गिरफ्तार : पढ़ें धार एसडीएम कोर्ट का आदेश


धार। नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मेधा पाटकर को उस समय गिरफ्तार किया गया जब वे धार जा रही थी। पीथमपुर के रास्ते में ही उन्हें  गिरफ्तार कर धार जेल में रखा गया है। बताया जाता है कि एहतियातन मेधा पाटकर को गिरफ्तार किया गया है। एसडीएम कोर्ट में पेशी के बाद उन्हेंन जेल भेजा गया है। इससे पहले सुबह मेधा पाटकर को इंदौर बॉम्बे अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था। सरदार सरोवर बांध के डूब प्रभावितों के पूर्ण पुनर्वास को लेकर वे अनशन पर बैठीं थी। आंदोलन के 12वें दिन प्रशासन ने मेधा पाटकर और उनके साथ अनशन कर रहे लोगों को उठाकर अस्पताल में भर्ती करवाया दिया था। अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद मेधा पाटकर ने बताया कि उन्होंने अभी तक अन्न ग्रहण नहीं किया है। बांध के प्रभावितों के समर्थन में उनका आंदोलन अभी भी जारी है। उनका कहना है कि बिना पुनर्वास लोगों को डुबाना नहीं चाहिए। मेधा पाटकर ने कहा कि जिस तरह उन्हें बंद रखा गया उसे अवैध रूप से नजरबंद रखना ही कहते हैं। मुझे गिरफ्तार नहीं किया गया था, इसके बाद भी मोबाइल फोन इस्तेमाल नहीं करने दिया गया। चिन्मय मिश्रा और एक अन्य को छोड़कर किसी को भी मुझसे मिलने की इजाजत नहीं दी गई।


Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।