जंतर-मंतर पर कर्ज मुक्ति के लिए किसान संगठनों का विशाल प्रदर्शन 18 जुलाई को


किसानों की क़र्ज़ माफ़ी और फ़सलों के उचित मूल्य की मांग को लेकर किसान संगठन ‘अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति’ के बैनर तले छह जुलाई से मध्य प्रदेश के मंदसौर से ‘किसान मुक्ति यात्रा’ शुरू कर चुके है। यात्रा का उद्देश्य किसानों की कर्ज मुक्ति और किसानी की लागत से डेढ़ गुने समर्थन मूल्य पर सभी कृषि उत्पादों की खरीद जैसे महत्वपूर्ण मुददो पर देश के किसानों के बीच जागृति पैदा करना है। यह यात्रा मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और हरियाणा से होते हुए 18 जुलाई 2017 को दिल्ली पंहुचेगी। दिल्ली पंहुचकर यह मार्च जंतर मंतर पर एक मोर्चे का स्वरुप ले लेगा।

किसान अपनी मांगों को लेकर 18 जुलाई को दिल्ली के जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेंगे। देश के 140 से भी अधिक किसान संगठन इस आंदोलन में शामिल होकर केंद्र सरकार को निर्णय लेने के लिए मजबूर करेंगे। अगर स्वामिनाथन समिति की सिफारिसें लागू होती है, तो 1.5 गुना गारंटी दाम मिलेगा, लेकिन सरकार इसे नजर अंदाज कर रही है।

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करे

डॉ सुनीलम ( 9425109770)

किसान मुक्ति यात्रा के राष्ट्रीय संयोजक

Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।