नियमगिरि की आंदोलनकारी कुनी सिकाका की सीआरपीएफ द्वारा अवैध गिरफ्तारी : अपडेट साझा कर विरोध दर्ज करें


तत्काल सूचना व निवेदन!

दबाव बनाने के लिए कृपया 06856-222304 पर एसपी-रायगढ़ कार्यालय को फोन करें।

उड़ीसा के नियमगिरि की कुनी सिकाका नाम की एक युवा डोंगरिया कोंध महिला साथी को सीआरपीएफ द्वारा मध्य रात्रि में उनके गांव गोरोता से उठा लिया गया है। उनकी रिहाई मांगने गई महिलाओं को यह स्पष्टीकरण दिया गया है कि कुनी एक खतरनाक माओवादी हैं।

यह बात महत्वपूर्ण है कि वह दोदो पुसिका की बेटी और लोदो सिकाका की भतीजी हैं, और वे दोनों नियमगिरि के बहुत ही नामी कार्यकर्ता हैं। यह गोरोटा से दूसरी गैरकानूनी गिरफ्तारी है, पहली गिरफ्तारी दस्रु कदरका की हुई थी


ताज़ा जानकारी के अनुसार, कुनी सिकाका को शायद एक माओवादी के रूप में जल्द ही स्थानीय मीडिया के सामने परेड कराई जाएगी।

आपसे अनुरोध है कि इस खबर को प्रसारित करें और अपना विरोध दर्ज करें
Share on Google Plus

jitendra chahar के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।