आसाम : बीजेपी सरकार ने दलितों की 3800 हेक्टेयर जमीन बाबा रामदेव को दान में दी


असम में पहली बार भाजपा की सरकार बनते ही रामदेव के अच्छे दिन आ गए है, यहां की बीजेपी सरकार ने आसाम के चिरांग जिले में  दलितों की 3800 हेक्टेयर जमीन रामदेव को फैक्ट्री लगाने के लिए तोहफे में दिया है। इसमें 400 हेक्टेयर जमीन पर खेती होती है, बाकी 3400 हेक्टेयर पर लोग बसे हुए है. भाजपा सरकार ने पंतजलि को दी जाने वाली जमीन आवंटन से जुड़ी औपचारिकता भी पूरी कर ली गई है।

उल्फा के प्रमुख अभिजीत असमो ने प्रदेश सरकार पर जमीन ना आवंटित करने के लिए काफी दबाव बनाया, मगर उनकी पूरी कोशिश नाकाम रही। अभिजीत असमो ने कहा कि हम योग का विरोध नहीं कर रहे, उन्होने स्वामी पर निशाना साधते हुए कहा कि वो योग का सहारा लेकर जमीन हथियाना चाह रहे है, जमीन मिलने के बाद वो व्यापार कर मुनाफा कमाना उनका मकसद है।

गौरतलब है कि इससे पहले की कांग्रेस सरकार ने जमीन आवंटन के नियम को बदल दिया था, उसके अनुसार अगर जमीन पर कृषि कार्य ना हो रहा हो तो उसे नॉनफॉर्मिग कार्य के लिए आवंटित किया जा सकता है, इसी नियम को ढ़ाल बनाकर सोनोवाल सरकार ने रामदेव को इतनी बड़ी जमीन आवंटित कर दी है। हलांकि अभी सिर्फ जमीन आवंटित की गई है, इस पर अभी बहुत कुछ होना है। कृषक मुक्ति संग्राम समिति (केएमएमएस) के बैनर तले भूमि अधिग्रहण के विरोध में संघर्ष जारी है।

 साभार : http://www.indiatrendingnow.com
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।