9 अगस्त 2016 : भारत छोड़ो आंदोलन के 75 वर्ष पुरे होने के अवसर पर देश भर के जन संगठनों द्वारा आयोजित कार्यक्रम

प्रिय साथी,

जिंदाबाद!

आशा है आप 9 अगस्त 2016 को अगस्त क्रांति की याद में जनक्रांति दिवस मनाने के कार्यक्रम की तैयारी कर रहे होंगे। मैंने आपको जन क्रांति दिवस के पर्चे, बैनर का मजनून भेजा है तथा अगस्त क्रांति पर अंग्रेजी और हिंदी में लेख भेज रहा हूं। 2 अगस्त को पीसीएसडीएस की बैठक में इरोम शर्मिला के 16 वर्ष तक AFSPA  (एएफपीएसए )रद्द कराने की मांग को लेकर किए जा रहे अनशन की समाप्ति को लेकर चर्चा हुई। सभा में साथियों की राय थी कि हमें एएफएसपीए के खिलाफ संघर्ष को जारी रखना है कि इसलिए मेरा सुझाव है कि आप जब कार्यक्रम आयोजित करें तब उसमें एक बैनर इरोम शर्मिला को लेकर भी अवश्य लगाएं। इससे जुड़ा पर्चा आपको संलग्न कर रहा हूं। आपसे अनुरोध है कि 9 अगस्त के कार्यक्रम की जानकारी प्रेस विज्ञप्ति तथा पर्चे के माध्यम से अधिकत्तम लोगों तक पहुंचाएं तथा आपके क्षेत्र में कार्य करने वाले जनसंगठनों तथा बुद्धिजीवियों तथा अगस्त क्रांति के महत्व को स्वीकार करने वाले साथियों को कार्यक्रम में अवश्य आमंत्रित करें। स्थानीय अखबारों को मेरा लेख भी प्रकाशन हेतू अवश्य भेज दें। पूरी सामग्री आपको फिर से संल्गन कर रहा हूं। अब तक मुझे जो सूचना मिली है उसके अनुसार निम्न संगठन और साथी नौ अगस्त का कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैः

1. नैशनल हाकर्स फैडरेशन – 20
2. छात्र भारती ,महाराष्ट्र– 19
3. किसान संघर्ष समिति ,म.प्र – 15
4. युसुफ मेहर अली सेंटर – देश में 10 स्थानों पर
5. कैलाश मीणा ,NAPM- राजस्थान में 5 स्थानों पर
6. वीरेंद्र विद्रोही ,INSAF- राजस्थान में 3 स्थानों पर
7. दीपक चौधरी ,कोयला श्रमिक सभा - नागपुर और चंद्रपुर में
8. सुभाष लोमटे और अन्ना खंदारे, स्वराज अभियान- औरंगाबाद में
9. सविता शिंदे ,स्वराज अभियान करमाला- शोलापुर में
10. प्रोफेसर विक्रम,  गुजरात विद्यापीठ एवं विकास पाठे केंद्रीय विश्वविद्यालय अहमदाबाद में।
11. देवव्रत विश्वास,फॉरबर्ड ब्लाक ,कलकत्ता
12. राम बाबू अग्रवाल, लोहिया मंच, इंदौर
13. संदीप पांडे, सोशलिस्ट पार्टी इंडिया- उत्तर प्रदेश में दस स्थानों पर
14. शाहिद कमाल, राष्ट्र सेवा दल- बिहार में दस स्थानों पर
15. पी.जे.जोशी इंडियन सॉलिडेरिटी कमेटी फॉर फ्रीडेम डेमोक्रेसी एंड ह्यूमन राइट्स, इंसाफ- केरल,तमिलनाडू और पुडुचेरी में दस स्थानों पर
16. सदाशिव मकदूम राष्ट्र सेवा दल देश भर में बीस स्थानों पर
17. विनोद कुमार एवं संजय ब्रह्मचारी- महेंद्रगढ़, हरियाणा में तीन स्थानों पर
18. जे.एस वालिया फरीदाबाद में
19. पी.सी.तिवाड़ी, उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी उत्तराखंड में 20 स्थानों पर
20. युवा जनता दल यू- केरल में 19 स्थानों पर
21. खुदाई खिदमतगार, मेरठ
22. नर्मदा बचाओ आंदोलन ,बड़वानी
23. हिमांशु कुमार ,पालमपुर ,
24. उमेश तिवारी सीधी,
25. गीता रामाकृष्णन, Unorganised Workers Federation - तमिलनाडु के सभी जिलो में
26. शुबदा ,स्वराज अभियान ,थाणे
27. पश्चिम बंगाल DSP, प्रो प्रबोध सिन्हा , पश्चिम बंगाल में 3 जिलों में
28. पवन राजावत ,निवाड़ी,टीकमगढ़
29. जीतेन्द्र सेंगर ,उज्जैन
30. अशोक पोटे ,नवी मुम्बई
31. अविनाश काकड़े पद्म श्री विखे पाटिल ,किसान परिषद
32. सुश्री प्रतिभा शिंदे के नेतृत्व में लोक संघर्ष मोर्चा नंदुर् बार और जळगांव में  कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं ।
इस तरह कुल मिलाकर 170 जगहों पर साथियों द्वारा कार्यक्रम आयोजित करने की सूचना है। हम समाजवादी संस्थाओं द्वारा मुख्य कार्यक्रम लखनऊ में आयोजित किया जा रहा है । देश भर की समाजवादी संस्थाएं यह कार्यक्रम करेंगी ,यह विश्वास है । इस तरह 200 स्थानों पर कार्यक्रम होगा । इसके अलावा देश में सैकड़ों आदिवासी संगठन 9 अगस्त को Day of Indigenous People मनाते हैं। वे भी यदि अपने कार्यक्रम में आजादी के अन्दोलन के अगस्त क्रांति आंदोलन को जोड़ते हैं ,तो बहुत अच्छा होगा। स्मरणीय है कि आदिवासियों ने बडी संख्या में 1942 के आंदोलन में भागीदारी की थी,जो आज भी अधूरी है।पूर्ण आज़ादी का संघर्ष जारी है ,जिसको तेज करने की जरुरत है।        
                    
सभी संगठनो ने अपने मुद्दे तय किये हैं ।नेशनल हॉकर्स फेडरेशन ,एफ ,डी आई भारत छोड़ो ,केरल में सांप्रदायिक और कॉर्पोरेट शक्तियों ,भारत छोड़ो ,छिंदवाड़ा में ,अडानी छिंदवाड़ा छोड़ो, कई स्थानो पर नशे के कारोबारियों ,भारत छोड़ो का नारा बुलंद किया जा रहा है। आपसे अनुरोध है कि आप भी इस मुहीम में शमिल हों। अपने संगठन का नाम जोड़े  ,स्थानीय मुद्दों को लेकर कार्यक्रम करें। स्थानीय शहीद स्थानों पर माल्यार्पण अवश्य करें।  
                           
डॉ. सुनीलम

Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।