दसरू कडरका की गिरफ्तार के विरोध में नियामगिरी आदिवासियों ने किया थाने का घेराव; देखे वीडियो


7 अप्रैल 2016 को माओवादी होने के झूठे आरोप में गिरफ्तार नियामगिरी सुरक्षा समिति के युवा कार्यकर्ता दसरू कडरका की गरिफ्तारी के विरोध में नियामगिरी के 12 गांवों के गरीब 200 डोंगरिया कोंध आदिवासियों ने 9 अप्रैल, शनिवार, को मनिगुड़ा पुलिस थाने को घेर लिया। आदिवासियों की मांग थी कि दसरू कडरका को बिना किसी शर्त के फौरन रिहा किया जाए। नियामगिरी सुरक्षा समिति के अध्यक्ष लादो सिकाका ने बताया कि दसरू को बाजार जाते वक्त पुलिस ने पकड़ लिया। हम जानते हैं कि वह निर्दोष है। सिकाका ने बताया कि यदि दसरू को तुरंत रिहा नहीं किया गया तो यह आंदोलन और भी तेज होगा।

Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।