अदालत में संघी हिंसा, न्याय हुआ शर्मसार; यह वीडियो ज़रूर देखें


15 फ़रवरी को पटियाला हाउस कोर्ट में जेएनयू छात्रों के साथ पत्रकारों को भी पीटा गया जिसके विरोध में 16 फ़रवरी को पत्रकारों ने प्रेस क्लब से सुप्रीम कोर्ट तक मार्च किया। यह बात सोचने वाली है कि अगर पत्रकारों को मारा-पीटा जाएगा और लिखने-बोलने को लेकर उनमें डर पैदा किया जाएगा तो आम जनता का क्या होगा ? यह वीडियो ज़रूर देखें -
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।