राष्ट्रीय समागम : गंगा बेसिन संरक्षण : चुनौतियाँ और संभावनाएं

गंगा मुक्ति आन्दोलन, साझा संस्कृति मंच और सर्व सेवा संघ के संयुक्त तत्वावधान में 10, 11एवं 12 अप्रैल 2015 को वाराणसी ( उत्तर प्रदेश ) में तीन दिवसीय "गंगा बेसिन संरक्षण: चुनौतियाँ एवं संभावनाएं" विषय पर राष्ट्रीय समागम का आयोजन किया गया है.

यह समागम प्रकृति और मनुष्य के बीच रागात्मक संबंधों में यकीन रखने वालों का जुटान है जो प्रकृति प्रदत्त हिमालय, गंगा नदी और उसके बेसिन में विकास के नाम पर किया जा रहे अप्राकृतिक छेड़छाड़ और उससे हुए गमभीर दुष्परिणामो पर विस्तृत परिचर्चा एवं समीक्षा करेगा. हिमालय तथा गंगा बेसिन से सम्बंधित सभी पहलुओं पर विचार विमर्श के बाद आगे कि कार्य योजना बनाई जाएगी .

इस समागम में पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, नेपाल, दिल्ली व् अन्य प्रदेशों से प्रतिनिधि शामिल होने वाले हैं. जिनमे वैज्ञानिक नदी, मामलो के विशेषज्ञ, समाजशास्त्री, लेखक, पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्त्ता, श्रमजीवी, मछुवारे एवं किसान शामिल होंगे.

आपसे इस कार्यक्रम में शामिल होने एवं सहयोग का अनुरोध है

कार्यक्रम स्थल:
10, 11 एवं 12 अप्रैल को 2 बजे तक : सर्व सेवा संघ परिसर राजघाट वाराणसी
12 अप्रैल को 4 बजे से जन सभा: भैसासुर घाट, वाराणसी

भवदीय
साझा संस्कृति मंच
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।