शावेज़ की हकीकत : तीसरी दुनिया का सपना

50 बाते जिन्होंने वेनेजुएला को गरीबी, गैर बराबरी और अमेरिकी दादागिरी के खिलाफ लड़ाई का मजबूत मोर्चा बना दिया-
  1.  लैटिन अमेरिका के इतिहास में आज तक ऐसा नहीं हुआ है कि एक राजनैतिक नेता की ऐसी निर्विवाद वैधता रही हो। 1999 में सत्ता में आने के बाद से वेनेजुएला में 16 चुनाव हुए। ह्यगो शावेज ने 15 जीते। 7 अक्टूबर 2012 के आखिरी चुनाव में उन्होंने अपने विरोधी को 10-12 प्रतिशत प्वाइंट्स के अंतर से हराया। 
  2. यूरोपिन यूनियन, आरगनाइजेशन ऑफ अमेरिकन स्टैट्स, यूनियन ऑफ साउथ अमेरिकन नेशन्स तथा कार्टर सेंटर जैसे अंतर्राष्ट्रीय निकायों ने सर्वसम्मति से वोटों की गिनती में पारदर्शिता को पहचाना।
  3. भूतपूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जेम्स कार्टर ने वेनेजुएला की निर्वाचन प्रणाली को ‘विश्व में श्रेष्ठ’ घोषित करार दिया।
  4. ‘‘सभी जनों तक शिक्षा पहुंचाने का कार्यक्रम 1998 में शुरू किया गया जिसके परिणाम उत्साहवर्धक रहे। लगभग 1.5 मिलियन वेनेजुएला के नागरिक पढना-लिखना सीख गये। शुक्र है साक्षरता अभियान (मिशन राबिंसन प्) का।
  5. दिसंबर 2005 में यूनेस्को ने कहा वेनेजुएला ने निरक्षरता का उन्मूलन कर दिया है।
  6. स्कूल जाने वाले बच्चों की संख्या 1998 में 6 मिलियन के मुकाबले 2011 में बढ़कर 13 मिलियन तक पहुंच गयी है तथा स्कूल में नामांकन की दर अभी 93.2 प्रतिशत है।
  7. सारी जनसंख्या को माध्यमिक शिक्षा स्तर तक लाने के लिए मिशन राबिंसन प्प् की शुरूआत की गई। इस तरह माध्यमिक स्कूल में नामांकन, सन् 2000 में 53.6 प्रतिशत से बढ़कर 2011 में 73.3 प्रतिशत हो गया।
  8. मिशन रिबास तथा सूक्रे से हजारों नौजवानों को विश्वविद्यालय स्तर की शिक्षा प्राप्त करने में सहायता मिली। इस प्रकार विद्यार्थियों की संख्या सन् 2000 में 895,000 के मुकाबले 2011 में बढ़कर 2.3 मिलियन हो गई। इसके लिये नये विश्वविद्यालय बनाये गये।
  9. वेनेजुएला के सभी नागरिकों को निःशुल्क स्वास्थ्य सेवायें सुनिश्चत करने के लिए ‘नेशनल पब्लिक सिस्टम’ बनाया गया। 2005 से 2012 के बीच में 7873 नये मेडिकल सेंटर स्थापित किये गये।
  10. 1999 में प्रत्येक एक लाख निवासियों के मुकाबले पहले सिर्फ बीस डॉक्टर थे। 2010 में प्रत्येक एक लाख निवासियों पर 80 डॉक्टर हैं।
  11. ‘‘मिशन बैरियों एदेंतरों-प् ने 534 मिलियन डॉक्टरी सहायता मुहैया करवाई। लगभग 17 मिलियन लोगों ने इसमें अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई; जबकि 1993 में 3 मिलियन लोगों की स्वास्थ्य तक नियमित पहुंच थी। 2003 से 2011 के बीच में 1.7 मिलियन लोगों की जिंदगी बचाई गई।
  12. 1999 में शिशु मृत्यु दर प्रत्येक हजार के मुकाबले 19.1 थी,जो 2012 में घटकर प्रत्येक हजार पर 10 हो गई है। इसमें लगभग 49 प्रतिशत की कमी आई है।
  13. औसत संभावित आयु 1999 में 72.2 वर्ष थी जो 2011 में बढ़कर 74.3 वर्ष हो गई है।
  14. 2004 में आपरेशन मिराकल की शुरूआत की गई। 1.5 मिलियन नागरिक जो मोतियाबंद तथा आंखों की अन्य बीमारियों से पीड़ित थे, आपरेशन मिराकल की वजह से पुनः अपनी दृष्टि प्राप्त कर सके।
  15. 1999 में गरीबी दर 42.8 प्रतिशत थी, जो 2011 में घटकर 26.5 प्रतिशत हो चुकी है। अति गरीबी दर जो 1999 में 16.6 प्रतिशत थी, 2011 में गिरकर 7 प्रतिशत हो चुकी है।
  16. यूएनडीपी के मानव विकास सूचकांक में वर्ष 2000 में वेनेजुएला 83वें स्थान पर था, मगर 2011 में यह देश 73वें स्थान पर विराजमान हो गया, इसके साथ ही इसने ‘‘उच्च मानव विकास सूचकांक’’ में भी प्रवेश कर लिया।
  17. जीआईएनआई गुणांक, जो कि देश की असमानता की दर की गणना की अनुमति देती है, 1999 की 0.46 से घटकर 2011 में 0.39 हो गई है।
  18. यूएनडीपी के अनुसार लैटिन अमेरिका में वेनेजुएला का गुणांक सबसे निम्नतम है तथा वेनेजुएला इस क्षेत्र में एक ऐसा देश है जहां कम से कम असमानता है।
  19. 1999 से अब तक बाल कुपोषण में 40 फीसदी कमी आयी है।
  20. 1999 में 82 फीसदी लोगों की सुरक्षित स्वच्छ जल तक पहुंच थी, अब यह 95 फीसदी है।
  21. राष्ट्रपति शावेज के कार्यकाल में सामाजिक खर्चों में 60.6 फीसदी वृद्धि हुई।
  22. 1999 से पहले सिर्फ 387,000 वृद्ध पेंशन पाते थे, अब यह आंकड़ा 2.1 मिलियन हो गया है।
  23. 1999 से अब तक 700,000 घरां का निर्माण किया जा चुका है।
  24. 1999 के बाद से सरकार ने 1 मिलियन हेक्टेयर जमीन आदिवासियों को वापिस/मुहैया करवायी है।
  25. भूमि सुधारों ने हजारों कृषकों को स्वयं की जमीन के लिए सक्षम बनाया। वेनेजुएला ने कुल तीन मिलियन एकड़ से ज्यादा जमीन का वितरण किया है।
  26. 1999 में भोजन उपभोग का वेनेजुएला 51 फीसदी उत्पादन कर रहा था। 2012 में उत्पादन 71 फीसदी था जबकि भोजन की खपत 1999 के बाद से बढ़कर 81 फीसदी हो गई थी।
  27. 1999 के बाद से वेनेजुएला के नागरिकों द्वारा औसतन कैलोरी खपत में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। यह सब खाद्य मिशन द्वारा संभव हुआ, जिसमें 22,000 फूट स्टोर (भोजन केन्द्र) की श्रृंखला बनाई गयी। जहां उत्पादनों में 30 फीसदी सब्सिडी बढ़ा दी गई है। मीट की खपत में 75 फीसदी की बढ़ोतरी हुई।
  28. स्कूलों में भोजन प्रदान करने के कार्यक्रम के तहत अभी पांच मिलियन बच्चे निःशुल्क भोजन प्राप्त कर रहे हैं। 1999 में यह आंकड़ा 250,000 था।
  29. कुपोषण दर 1998 में 21 फीसदी थी जो 2012 में गिरकर 3 फीसदी से भी कम हो गयी है।
  30. एफएओ के अनुसार लैटिन अमेरिका तथा कैरिबियन क्षेत्र में वेनेजुएला भूख पर काबू पाने में सबसे आगे रहा है।
  31. 2003 में तेल कंपनी पीडीपीएसए के राष्ट्रीयकरण के कारण वेनेजुएला अपनी ऊर्जा सम्प्रभुता प्राप्त कर सका है।
  32. बिजली तथा दूरसंचार सेक्टर के राष्ट्रीयकरण ने निजी एकाधिकार को समाप्त करके इन सेवाओं तक जनसाधारण की पहुंच को सुनिश्चित किया है।
  33. 1999 के बाद से अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में 50,000 से ज्यादा को-ऑपरेटिव का निर्माण किया जा चुका है।
  34. 1998 में बेरोजगारी की दर 15.2 फीसदी थी। 4 मिलियन नौकरियों के पैदा होने के साथ बेरोजगारी दर 2012 में गिरकर 6.4 फीसदी पर आ गई है।
  35. न्यूनतम मानदेय 1998 में 100 बोलिवरस (16 डॉलर) थी, जो 2012 में बढ़कर 247.52 बोलिवर्स (330 डॉलर) थी, इसमें लगभग 2000 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई। यह एलए में उच्चतम न्यूनतम मानदेय है।
  36. सन् 1999 में जहां पैंसठ फीसदी मजदूर केवल न्यूनतम मजदूरी ही प्राप्त करते थे, वहीं 2012 में न्यूनतम मजदूरी पाने वाले मजदूरों की संख्या घटकर मात्र 21.1 फीसदी रह गयी।
  37. खास उम्र मे वे युवा जिन्होंने कभी काम ही नहीं किया है उनको न्यूनतम मजदूरी का 60 फीसदी आय मिलती रहेगी।
  38. ऐसी महिलाएं जिनकी कोई आमदनी नहीं है और विकलांग व्यक्ति भी न्यूनतम मजदूरी का 80 फीसदी पाते रहेंगे।
  39. वेतन में बिना किसी कटौती के काम करने के घंटों को छः घंटे प्रतिदिन और 36 घंटे प्रति सप्ताह के हिसाब से कम कर दिया गया है।
  40. सरकारी कर्ज 1998 के सकल घरेलू उत्पाद के 45 फीसदी की तुलना में 2011 में गिरकर 20 फीसदी रह गया। अपने सभी कर्जों को मियाद से पहले ही चुकता करके वेनेजुएला ने खुद को अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक के कब्जे से निकाल लिया।
  41. सन् 2012 में वेनेजुएला की आर्थिक विकास दर 5.5 फीसदी रही जो कि दुनिया की सबसे ज्यादा विकास दर में शामिल है।
  42. प्रति व्यक्ति घरेलू सकल उत्पाद 1999 के 4100 डॉलर से बढ़कर 2011 में 10810 डॉलर पहुंच गया।
  43. 2012 के सालाना विश्व खुशहाली आकलन के अनुसार वेनेजुएला लातिन अमेरिका का कोस्टारिका के बाद दूसरा सबसे खुशहाल देश है और विश्व के स्तर पर यह जर्मनी एवं स्पेन से भी आगे बढ़कर 19वें पायदान पर खड़ा है।
  44. वेनेजुएला अमेरिकी महाद्वीप को सीधे सहायता उपलब्ध कराने में अमेरिका से भी आगे है। सन् 2007 में शावेज़ ने अनुदान कर्ज और ऊर्जा सहायता के रूप में इसे 8800 मिलियन डॉलर उपलब्ध कराये थे जबकि बुश प्रशासन ने मात्र 3000 मिलियन डॉलर ही दिये थे।
  45. अपने इतिहास में पहली बार वेनेजुएला के पास बोलीवर और मिराण्डा नाम के दो प्रक्षेपास्त्र हैं और अब यह स्पेस टैक्नोलॉजी के क्षेत्र में संप्रभुता हासिल कर चुका है। पूरे देश में इंटरनेट और संचार-संप्रेषण का जाल बिछ चुका है।
  46. सन् 2005 में पेट्रोकेरी की स्थापना के बाद लैटिन अमेरिका और केरेबिया में 18 देश या लगभग 90 मिलियन लोग तेल पर मिलने वाली चालीस से लेकर साठ फीसदी सब्सिडी के माध्यम से ऊर्जा का इस्तेमाल कर रहे हैं।
  47. कम दरों पर तेल उपलब्ध कराके वेनेजुएला अमेरिका के हाशिये पर चले गये समुदायों को भी राहत पहुंचाता है।
  48. 2004 में क्यूबा और वेनेजुएला ने मिलकर जो बोल्वेरियन एलाइंस फार द पीपुल्स ऑफ अवर अमेरिका का गठन किया उसने दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग और आदान-प्रदान के एक गठबंधन की नींव रखी। इस गठबंधन में अब 8 सदस्य शामिल हैं और इसका उद्देश्य किसी भी सामाजिक परियोजना में मनुष्य को केन्द्र में रखना है ताकि गरीबी और सामाजिक पिछड़ेपन को दूर किया जा सके।
  49. सन् 2011 में निर्मित कम्युनिटी ऑफ लेटिन अमेरिकन एण्ड केरेबियन स्टेट्स यानी ब्म्स्।ब् के केन्द्र में ह्यूगो शावेज़ ही थे। इस मंच ने पहली बार अमेरिका और कनाडा के स्वामित्व से मुक्त हुए इस क्षेत्र के 33 देशों को एक ही छत के नीचे लाने का काम किया।
  50. कोलम्बिया में शांति प्रक्रिया चलाने में ह्यूगो शावेज़ की एक महत्वपूर्ण भूमिका रही।
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।