दयामनी बारला: 3 अगस्त 2011 को भूमि अधिग्रहण के विरोध में जंतर मंतर पर पर दिया गया भाषण

यह विडियो सामाजिक कार्यकर्ता दयामनी बारला के भाषण का है जो (गुज़री 16 अक्टूबर से न्यायिक हिरासत में रांची जेल में बंद हैं।) उन्होंने 3 अगस्त 2011 को भूमि अधिग्रहण के विरोध में जंतर मंतर, नई दिल्ली में आयोजित धरने में दिया था। इस भाषण में उन्होंने कोर्पोरेट्स की लूट की तीखी आलोचना करते हुए, सरकारों की कंपनीपरस्ती को कटघरे में खड़ा किया और साझा संघर्षों की ज़रूरत को सामने रखा।
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।