नवलगढ़ के 16 गांवों में तीन सीमेंट इकाईयां लगाने संबंधी करार (एम.ओ.यू.) को रद्द करने की मांग के समर्थन में


5-6 नवंबर, 2011 को नवलगढ़ में शहीद भगतसिंह  पुस्तकालय के सामने भूमि अधिग्रहण, विस्थापन व राजकीय दमन के खिलाफ दो दिवसीय किसान सम्मेलन हुआ जिसमें राजस्थान के अलावा अन्य राज्यों से किसान-मजदूर संगठनों एवं नागरिक अधिकार संगठनों के प्रतिनिधियों ने सक्रिय भागीदारी की। सम्मेलन के दौरान सीमेंट फैक्ट्रियों के लिए नवलगढ़ के 18 गांवों में जबरन भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन पर विस्तृत चर्चा की गईं इस चर्चा में गोठडा, बसावा, देवगांव,खिरोड़ख भोजनगर, तुर्काणी जोहड़ी, बेरी आदि प्रभावित गांवों के किसान प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
 
प्रभावित गांवों के किसान-मजदूर भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही का विरोध कर रहे हैं। इन गांवों के अलावा आस-पास के गांवों के किसान-मजदूर 27 अगस्त 2010 से लगातार तहसील मुख्यालय के सामने धरना दे रहे हैं। 14 मार्च 2008, 27 अगस्त 2009, 21 दिसंबर 2010 एवं 6 फरवरी 2011 को रैलियां आयोजित कर हजारों किसानों ने सीमेंट कंपनियों के साथ किए गये करार को रद्द करने की मांग की। 24 जुलाई 2011 को चक्का जाम तक कर रखा गया। भूमि अधिग्रहण विरोधी संघर्ष समिति के बैनर तले संघर्षरत इन किसानों-   मजदूरों के आंदेालन के समर्थन में सम्मेलन में निम्नलिखित प्रस्ताव पारित किये गये-

  • राज्य सरकार से मांग की गई कि नवलगढ़ में सीमेंट इकाईयां लगाने संबंधी सभी प्रस्ताव (एम.ओ.यू.) रद्द किये जायें।
  • बहला-फुसला कर जिन किसानों की जमीन कंपनियों/दलालों ने हथिया ली है उन्हें तत्काल वापस की जाए। साथ ही उन्हें क्षतिपूर्ति देकर उनके पुनर्वास का बंदोबस्त किया जाए।
  • आंदोलन के दौरान किसानों-मजदूरों पर लगाये गये सभी केस वापस लिये जाएं।
इस संदर्भ में तैयार मांगपत्र पर निम्न साथियों ने हस्ताक्षर किये-
  • स्वतंत्रता सेनानी सांवलराम भारतीय,
  • गिरजेश्वर सिंह, अखिल भारतीय कृषक खेत मजदूर संगठन, जयपुर
  • र्जुन प्रसाद सिंह, भारत का लोक जनवादी मोर्चा (पी.डी.एफ.आई)
  • सच्चिदानंद प्रभात, जनवादी मजदूर किसान सभा, झारखंड
  • रामचन्द्र कुलहरि, अखिल भारतीय किसान महासभा झुंझनूं
  • श्रीराम दूत, शेखावाटी किसान मंच, नवलगढ़
  • मांगीलाल मीणा, राजस्थान किसान संगठन, उदयपुर
  • देवी शंकर मानव, किसान खेत मजदूर यूनियन, कोटा
  • मनीराम पूनियां, किसान मोर्चा, श्रीगंगानगर
  • राजेन्द्र कुम्भज, राजस्थान जन अधिकार मंच, जयपुर
  • पन्नाराम सैनी, भारतीय किसान संघ, नवलगढ़
  • लक्ष्मी नारायण मिश्रा, उदयपुर
  • रूमन सांगवान, चुरू
  • स्वतंत्रता सेनानी सत्यदेव देवरोड
  • डॉ. दर्शन पाल भारतीय किसान यूनियन (एकता) पंजाब
  • जयवीर गोदारा, मरूप्रदेश निर्माण मोर्चा,
  • महेंद्र मिहोनवी, म.प्र.
  • नरेन्द्र क्रांतिकारी, भारत का गरीब जनांदोलन, अलवर
  • प्रभात कुमार सिन्हा, राजस्थान मजदूर किसान संगठन, चित्तौड़गढ़
  • महेश कुमार जाखड़, राजस्थान किसान यूनियन, सीकर
  • नरेन्द्र सिंह कछवाहा, लोक अधिकार मंच, राजसमन्द
  • नथमल सेनी, मनरेगा मेट संघ, झुंझुनूं
  • जवाहर सिंह, जनप्रयास, भरतपुर
  • रमेश यादव, सांगानेर क्राफ्टसिटी संघर्ष समिति, जयपुर
  • बजरंग लाल एडवोकेट, भगत सिंह के सपनेपत्र झुंझुनूं
-दीप सिंह शेखावत
Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।