सिर मुड़ाते ही ओले पड़े: कर्नाटक राज्य में प्रस्तावित पोस्को संयंत्र स्थानान्तरित करने की सरकारी विवषता

उड़ीसा में इस्पात संयंत्र लगाने की योजना के लगातार विरोध से आहत कोरियाई वैश्विक स्टील कम्पनी पोस्को को कर्नाटक में दूसरा झटका लगा है। राज्य सरकार ने गदग जिले में किसानों के विरोध को देखते हुए कंपनी की 32 हजार करोड़ निवेश की परियोजना को किसी दूसरे जिले में स्थानान्तरित करने और भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया पर रोक का निर्णय 15 जुलाई 2011 को किया है।

किसानों के कड़े विरोध के आगे झुकते हुए भाजपा सरकार ने गदग जिले में भूमि अधिग्रहण पर तुरंत रोक लगाने और इस परियोजना को जिले से बाहर स्थानांतरित करने का निर्णय किया है। पोस्को ने इस प्रस्तावित संयंत्र के लिए 3300 एकड़ भूमि की मांग की थी साथ ही कंपनी की प्रस्तावित सिंगटलूर लिफट सिंचाई परियोजना से अपने संयंत्र के लिए पानी लेने तथा पास ही स्थित कप्पदागुडा हर्बल पार्क क्षेत्र से लौहा अयस्क खनन का लाइसेंस लेने की भी कम्पनी की योजना थी।

Share on Google Plus

संघर्ष संवाद के बारे में

एक दूसरे के संघर्षों से सीखना और संवाद कायम करना आज के दौर में जनांदोलनों को एक सफल मुकाम तक पहुंचाने के लिए जरूरी है। आप अपने या अपने इलाके में चल रहे जनसंघर्षों की रिपोर्ट संघर्ष संवाद से sangharshsamvad@gmail.com पर साझा करें। के आंदोलन के बारे में जानकारियाँ मिलती रहें।